कोरोना बंदिशें: हिमाचल के चार और जिलों में भी दुकानें खोलने का समय तय * ENTV

कोरोना बंदिशें: हिमाचल के चार और जिलों में भी दुकानें खोलने का समय तय

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हिमाचल प्रदेश के चंबा, सिरमौर व किन्नौर और लाहौल-स्पीति जिले में भी दुकानों को खोलने का समय निर्धारित कर दिया गया है। मंगलवार को जिलाधिकारी चंबा डीसी राणा की ओर से जारी आदेशों के अनुसार जिले में सभी बजार-दुकानें सुबह नौ बजे शाम सात बजे तक खुले रहेंगे। फार्मेसियों/केमिस्ट की दुकानों को इस आदेश के प्रभाव से छूट दी गई है और वे हमेशा की तरह काम करना जारी रखेंगे। फार्मेसी/केमिस्ट की दुकानों को छूट रहेगी और वे पहले की तरह काम कर सकेंगे। मोटर मैकेनिक, टायर पंचर की दुकानें रात 11 बजे तक खुली रखने की अनुमति होगी। रेस्तरां और ढाबों को रात 10 बजे तक खुले रहने की अनुमति होगी। हालांकि, राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित रेस्तरां और ढाबों को रात 11 बजे तक खुला रखा जा सकेगा। सभी दुकानों में नो मास्क, नो सर्विस का नियम लागू होगा।

सिरमौर में सभी सामाजिक और धार्मिक समारोह पर पूरी तरह प्रतिबंध

इसी तरह जिला सिरमौर में भी बंदिशें भी बढ़ गईं हैं। दुकानों को खोलने और बंद करने का समय निर्धारित कर दिया है। जबकि, रविवार को बाजार बंद रखने के आदेश जारी किए हैं। इसके साथ सिरमौर में सभी सामाजिक और धार्मिक समारोह पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। जबकि, शैक्षणिक, खेल, विवाह, मनोरंजन, सांस्कृतिक व राजनीतिक सभाओं को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ आयोजन की अनुमति होगी।  अधिकतम 100 व्यक्तियों को इंडोर व खुले स्थान पर 50 प्रतिशत क्षमता के साथ अधिकतम 300 व्यक्तियों की अनुमति होगी। किसी भी प्रकार के आयोजन के लिए संबंधित उपमंडलाधिकारी से अनुमति लेना अनिवार्य होगा। यह आदेश जिला दंडाधिकारी आरके गौतम ने जारी किए हैं। राष्ट्रीय राजमार्गों को छोड़कर रेस्तरां और ढाबों को सभी दिनों में शाम 7.30 बजे तक संचालित करने की अनुमति होगी और शाम 7.30 बजे के बाद रात नौ बजे तक केवल भोजन वितरण सेवाएं प्रदान कर सकेंगे। इसके अतिरिक्त प्रबंधक व खाना पकाने वाले कर्मचारियों को आरटीपीसीआर करवाना आवश्यक होगा। खाना पकाने वाले कर्मचारी अनिवार्य रूप से मास्क, दस्ताने और हेड कवर आदि पहनेंगे।
राष्ट्रीय राजमार्गों के रेस्तरां और ढाबा को सभी दिनों में रात्रि 10 बजे तक संचालित करने की अनुमति होगी। सिरमौर जिले के अधिकार क्षेत्र में सभी सरकारी विभागों, पीएसयू, स्थानीय निकायों स्वायत्त निकायों के सभी कार्यालय सप्ताह में शनिवार और रविवार कार्य दिवसों को बंद रहेंगे और ये कार्यालय कार्य दिवसों में 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ संचालित होंगे। ये प्रतिबंध आपातकालीन या आवश्यक सेवाओं जैसे स्वास्थ्य, पुलिस, अग्निशमन, बैंक, बिजली, पानी और स्वच्छता, सार्वजनिक परिवहन, दूरसंचार, उत्पाद शुल्क, बजट और संबंधित घटना सेवाओं व गतिविधियों आदि से निपटने वाले कार्यालयों पर लागू नहीं होंगे। प्रशासन ने धार्मिक स्थलों, पूजा स्थलों के साथ-साथ जिले के सभी स्थानों पर लंगर, सामुदायिक रसोई, धाम पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है।

लाहौल-स्पीति में सभी दुकानें व व्यापारिक प्रतिष्ठान शाम 6.30 बजे बंद करने के आदेश

वहीं, उपायुक्त लाहौल-स्पीति की ओर  से जारी आदेशों के अनुसार जिले में रात्रि 10 बजे से संबह पांच बजे तक कर्फ्यू रहेगा, जिसका प्रत्येक व्यक्ति को प्रभावी ढंग से पालन करना होगा। लेकिन आपात या आवश्यक सेवाओं में तैनात वाहनों, व्यक्तियों पर यह प्रतिबंध नहीं होगा। आदेश के अनुसार इंडोर में क्षमता का 50 प्रतिशत या अधिकतम 100 व्यक्तियों जो दोनों में न्यूनतम हो, को एकत्र होने की अनुमति होगी, जबकि खुले स्थानों में अधिकतम 300 लोग एकत्र हो सकेंगे।

इस प्रकार की भीड़ में कोविड-19 के नियमों की सख्ती के साथ अनुपालना करनी होगी। ऐसे समारोह अथवा आयोजन के संबंध में आयोजक को समारोह का विवरण प्रस्तुत कर पूर्वानुमति लेनी होगी। जिला में सभी दुकानें, मंडियां व व्यावसायिक प्रतिष्ठान शाम 6.30 बजे तक की खुले रहेंगे। हालांकि दवाई की दुकानों या फार्मेसी पर इस प्रकार का कोई प्रतिबंध नहीं होगा। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गए हैं और आगामी 24 जनवरी तक प्रभावी रहेंगे। किन्नौर में भी दुकानें खोलने का समय तय कर दिया गया है।

Spread the News
%d bloggers like this: